Crypto Tax Explained in Hindi [2022]

Crypto Tax Explained in Hindi : दोस्तों पूरी दुनिया के साथ साथ भारत में भी पिछले कुछ सालो में Crypto Currency का क्रेज बहुत ज्यादा बढ़ा हैं और भारत में 2 करोड़ से ज्यादा लोगो ने Crypto Currency में अपना पैसा इन्वेस्ट किया हुआ हैं।

Crypto Currency में भारत के Investors की गिनती बढ़ती जा रही हैं, पर कई लोगो को क्रिप्टो में Invest करने से डर लगता था क्योकि किसी को भी इसके लीगल होने की जानकारी नहीं थी।

पर इस बार के बजट में हमारे फाइनेंस मिनिस्टर Nirmala Sitharaman जी ने क्रिप्टो को बजट में शामिल किया और इसपर टैक्स का प्रबंधन भी लगया, जिससे बात साफ़ हो गयी की अब क्रिप्टो भारत में लीगल हैं।

भारत में क्रिप्टो पर टैक्स लगने के बाद कई लोगो को Crypto Tax के बारे में पूरी और सही जानकारी नहीं हैं, इसलिए आज के इस लेख में हम क्रिप्टो टैक्स (Crypto Tax Explained in Hindi) के बारे में समझेंगे।

crypto-tax-explained-in-hindi

Crypto Tax Explained in Hindi

नीचे भारत के क्रिप्टो टैक्स के बारे में विस्तार से जानकारी दी हुई हैं।

#1. 30% Tax

दोस्तों क्रिप्टो टैक्स के बारे में पहली चीज यह हैं की 1 अप्रैल, 2022 के बाद आप अपने क्रिप्टो इन्वेस्टमेंट पर जितना भी Profit कमाएंगे आपको उसके ऊपर 30% का टैक्स सरकार को देना होगा।

जैसे – अगर आपने 10,000 रुपए का Profit कमाया तो आपको इसके ऊपर 3000 रुपए का टैक्स भरना होगा। इस 30% टैक्स में कोई भी स्लैब नहीं हैं आपको Flat 30% टैक्स भरना होगा और 30% टैक्स आपके Net Profit पर लगेगा।

#2. 1% TDS (Tax Deduction at Source)

दोस्तों अगर आप भारत में किसी भी प्लेटफार्म से क्रिप्टो को खरीदते या बेचते हैं या किसी ओर को Transfer करते हो तो उसके ऊपर आपको उस अमाउंट का 1% TDS चार्ज देना होगा, जो आपके Pan Card में डिपाजिट होगा।

जिसे आप 14 से 18 महीने बाद Claim कर सकते हैं। TDS कोई एडिशनल टैक्स नहीं हैं, 1% TDS चार्ज 1 May, 2022 के बाद काटना शुरू होगा।

#3. Loss Not Carry Forward

क्रिप्टो एसेट्स काफी ज्यादा Volatile होते हैं यानी क्रिप्टो मार्किट बहुत तेजी से बढ़ता घटता रहता हैं। जिसके कारण आपका Portfolio उतार चढ़ाव भी देखते रहता हैं पर दोस्तों अगर आपका क्रिप्टो में Loss होता हैं तो उसे आप कही भी Adjust नहीं कर सकते।

जैसे – शेयर मार्किट में अगर आपका एक फाइनेंसियल ईयर में loss होता हैं तो उसपे आप अगले साल टैक्स benefit ले सकते हैं, पर क्रिप्टो में अगर आपका Loss होता हैं तो उसपे आपको कोई टैक्स Benefit नहीं मिलता।

यानी प्रॉफिट पर आपको 30% Flat टैक्स देना हैं पर अगर Loss हुआ तो वो आपको ही सहना हैं।

तो दोस्तों इस बार के बजट में Crypto Tax के बारे में इन्ही तीन चीजों के बारे गया हैं और आपको इसी के अनुसार क्रिप्टो पे टैक्स भरना होगा।

क्या Crypto पर Tax लगाना सही हैं?

दोस्तों टैक्स से पहले ज्यादातर लोग क्रिप्टो निवेश से डरा करते थे की कही Government क्रिप्टो को Ban ना कर दें, पर Crypto Tax से यह चीज साफ़ हैं की Government अभी क्रिप्टो बैन के बारे में बिलकुल नहीं सोच रही।

इसके आलावा आने वाले समय में Government खुद की क्रिप्टो कॉइन लेकर आने वाली हैं जिसका नाम Digital Rupee होगा। इससे हमे यह पता लगता हैं की आने वाले समय में Government ब्लॉकचैन और क्रिप्टो को बढ़ावा देने वाली हैं।

यह लेख भी पढ़े:

दोस्तों आपके हिसाब से क्रिप्टो पर टैक्स लगाना सही हैं या गलत कमेंट बॉक्स में हमे जरूर बताये और इस लेख को अपने सभी दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे।

निष्कर्ष (Conclusion)

आज के इस लेख में आपने क्रिप्टो टैक्स (Crypto Tax Explained in Hindi) के बारे में समझा, अगर आपको इससे जुड़ा कोई भी प्रश्न पूछना हैं तो आप नीचे कमेंट के जरिये पूछ सकते हैं। बाकि इसी तरह के क्रिप्टो लेख पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग को फॉलो कर लें।

FAQ – Crypto Tax Explained in Hindi

Q: क्या क्रिप्टो Loss में भी टैक्स भरना होगा?

Answer: जी नहीं, आपके क्रिप्टो नेट प्रॉफिट पर आपको 30% का टैक्स भरना होगा।

Q: 30% टैक्स से India में Crypto पर क्या असर पड़ेगा?

Answer: 30% टैक्स काफी लोगो के लिए बहुत ज्यादा हैं, इससे कई Crypto Opportunity भारत में नहीं आ सकती टैक्स के कारण।

Q: क्रिप्टो के आलावा 30% टैक्स किन चीजों पर लगा हैं?

Answer: सभी Virtual Asset जैसे – NFT, Crypto आदि पर 30% टैक्स लगा हैं।

Sharing Is Caring:

Hey There, Welcome to My Blog. Myself Gagan Shrivastav Founder of KarobaarGuru.com Am a Digital Entrepreneur & Passionate About Creating Content.

Leave a Comment