Startup Terms Explained in Hindi (2022)

Startup Terms Explained in Hindi: आज के इस लेख में हम उन सभी Startup Terms के बारे में जानेंगे जिसे आपको पता होना चाहिए। इन Startup Terms की मदद से आपका स्टार्टअप से जुड़ा ज्ञान जरूर बढ़ेगा।

दोस्तों आज पूरी दुनिया के साथ साथ पूरे भारत में स्टार्टअप की एक लहर जैसी चीज चल पड़ी हैं। हर एक इंसान अपना खुद का स्टार्टअप करना चाहता है और कई लोगों ने भारत से अपना स्टार्टअप शुरू करके पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन भी किया है। इसलिए आज भारत में 100 से ज्यादा Unicorn स्टार्टअप पैदा हो चुके हैं।

अगर आप भी स्टार्टअप फील्ड में रुचि रखते हैं और Startups के बारे में ज्ञान बढ़ाना चाहते हैं तो इस लेख में आपको स्टार्टअप से जुड़े जरूरी Terms को समझने में मदद मिलेगी।

जिसे आगे जाकर आप अपने स्टार्टअप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं और दूसरे लोगों के साथ शेयर भी कर सकते हैं।

Startup-Terms-Explained-in-Hindi

Startup Terms Explained in Hindi 

नीचे जितने भी जरूरी स्टार्टअप Terms है उनके बारे में विस्तार से लिखा हुआ है। तो चलिए Startup Terms Explained in Hindi पढ़ते हैं।

Angel Investors 

Angle Investors उन लोगों को कहा जाता है जो आपके स्टार्टअप में शुरुआत के समय में अपना पैसा इन्वेस्ट करते हैं। बिना यह देखें कि आपके स्टार्टअप का क्या रिजल्ट है, आपके स्टार्टअप ने कितना रेवेन्यू जनरेट किया है, आपका क्या बिजनेस मॉडल है और आदि।

एंजल इन्वेस्टर अपना पैसा आपके स्टार्टअप में इसलिए Invest करते हैं क्योंकि उन्हें आप पर भरोसा होता है।

Alpha Testing 

जब आप अपना Startup शुरू करते हैं और शुरुआत के लिए आप अपने प्रोडक्ट को अपने ही स्टार्टअप के लोगों को टेस्ट करने के लिए देते हैं तो उसे Alpha Testing कहा जाता है।

Beta Testing

जब आपके स्टार्टअप के प्रोडक्ट का Alpha Testing पूरा हो जाता है तब आप उसे Beta Testing के लिए भेजते हैं। इसमें आप अपने कुछ ही कस्टमर को प्रोडक्ट देते हैं ताकि आप का प्रोडक्ट कुछ लोगों तक पहुंच सके और आपके पास कुछ रिव्यू आ सके। इसमें आपका प्रोडक्ट पूरे मार्केट में नहीं जाता सिर्फ कुछ लोगों तक जाता है।

BootStrapping

Bootstrap उन स्टार्टअप को कहा जाता है जो अपना खुद का पैसा अपने स्टार्टअप में इन्वेस्ट करते हैं। जैसे – उनकी सेविंग, उनके दोस्तों का पैसा, परिवार वालों का पैसा। इसमें कोई भी आपके Startup में बाहर से इन्वेस्ट नहीं करता और जब आपका स्टार्टअप खुद के पैसों से चल रहा हो तो उसे Bootstrapping कहा जाता है।

Burn Rate

आप अपने स्टार्टअप में हर महीने जितना भी पैसा नुकसान करते हैं Lose के रूप में उसे Burn Rate कहा जाता है। यदि आपने नया स्टार्टअप शुरू किया है तो उसमें आपका Total No. of Revenue – Total Cost का जो नंबर आएगा वह Burn Rate होगा।

Business Model

आसान शब्दों में बिजनेस मॉडल को एक एक्सेल शीट भी कह सकते हैं। जिसमें आपके स्टार्टअप का एक लिखा चिट्ठा होता है। इसमें आपके स्टार्टअप ने पिछले महीने, पिछले साल, पिछले Quarter में कितना लॉस किया, कितना रिवेन्यू किया, आदि चीजें लिखी होती है और बिजनेस मॉडल से ही हम आगे का Future बिजनेस का मापते हैं।

Cap Table

आपके स्टार्टअप में कितने लोगों की भागीदारी है और कितने लोगों के पास आपके स्टार्टअप का हिस्सा है, उसे Cab Table कहा जाता है।

कैप टेबल का इस्तेमाल उस समय होगा जब आप अपने स्टार्टअप के लिए Investors से पैसा इकट्ठा कर रहे होंगे क्योंकि वहां पर आपसे यह सवाल जरूर पूछा जाएगा कि आपके स्टार्टअप में कितने लोगों की भागीदारी है।

Conversion Funnel

आपकी स्टार्टअप में आपका कस्टमर कितनी चीजों से गुजरने के बाद आपका कस्टमर बनता है उसे Conversion Funnel कहा जाता है।

Example के लिए अगर आपका कस्टमर पहले आपकी वेबसाइट पर जाता है फिर आपकी वेबसाइट के बारे में पढता है और उसके बाद अगर आपका कस्टमर बनता है तो उसे Conversion Funnel कहा जाता है।

Customer Acquisition Cost

आप अपने स्टार्टअप में एक कस्टमर को लाने के लिए कितना Cost लगा रहे हैं उसे Customer Acquisition Cost या C.A.T भी कहा जाता है। इसमें सभी तरह की कॉस्ट इंक्लूड होती है।

Customer Segment

आप अपने स्टार्टअप में किन लोगों को टारगेट कर रहे हैं जैसे – अगर आप का प्रोडक्ट सिर्फ बुजुर्गों के लिए है या सिर्फ उन लोगों के लिए है जिनकी इनकम ₹50,000 से ज्यादा है।

तो उन Specific Customers को Customer Segment कहेंगे यानी आप कस्टमर टारगेटिंग को Customer Segment कहा जाता है।

Decacorn

Unicorn का नाम तो आपने जरूर सुना होगा और आप इसके बारे में जानते भी होंगे। पर अगर किसी भी स्टार्टअप की वैल्यूएशन 10 बिलीयन डॉलर से अधिक हो जाती है तो उसे Decacorn कहा जाता है।

Dragon – Startup Terms Explained in Hindi

अगर कोई स्टार्टअप अपने पहले ही इन्वेस्टमेंट राउंड में एक बिलियन डॉलर से ज्यादा फंडिंग यानी पैसा उठाता है तो उसे Dragon कहा जाता है। हालांकि आज के समय में Dragon स्टार्टअप बिल्कुल ना के बराबर है।

Equity

किसी भी स्टार्टअप कंपनी के स्टॉक को Equity कहा जाता है। जैसे कि आपने Shark Tank India सीजन 1 में देखा होगा कि जितने भी इन्वेस्टर थे – वह कहते थे कि हम आपकी कंपनी में इतने परसेंट की Equity लेंगे यानी उनका मतलब होता था कि हम आपकी कंपनी में इतने परसेंट का हिस्सा और स्टॉक्स लेंगे।

GTM

GTM का मतलब होता है Go To Market Strategy जब आप अपना प्रोडक्ट मार्केट में लॉन्च कर देते हैं तो उसके बाद आपके प्रोडक्ट को आपके कस्टमर सेगमेंट तक कैसे पहुंचाना है, उनके तक आपका प्रोडक्ट कैसे पहुंचेगा, आदि चीजों की प्लानिंग को GTM कहते हैं।

IPO

अगर आपको Share Market की जानकारी है तो IPO का मतलब आप समझते होंगे IPO का मतलब है Initial Public Offering.

जब आप अपने स्टार्ट को स्टॉक मार्केट में लिस्ट करते हैं तो शुरुआत में उसे IPO कहा जाता है – जैसे जोमैटो कंपनी ने हाल ही में अपना IPO लाया था।

MVP – Startup Terms Explained in Hindi

MVP (Minimal Viable Product) इसका मतलब होता है जब आप अपने स्टार्टअप के प्रोडक्ट में ज्यादा फीचर नहीं डालते पर आपका प्रोडक्ट जिस काम के लिए तैयार हुआ है अगर वह उसकी मदद से पूरा हो रहा है और आप उसे मार्केट में लॉन्च कर सकते हैं तो उसे MVP कहा जाता है।

Pre Money Valuation

आपके स्टार्टअप में यदि कोई भी Investor पैसा इन्वेस्ट करता हैं तो उस इन्वेस्टमेंट से पहले आपके स्टार्टअप की क्या वैल्यूएशन थी उसे Pre Money Valuation कहा जाता है।

Retention

जब आपके स्टार्टअप के प्रोडक्ट को कोई कस्टमर दोबारा खरीदने आता है तो उसे Retention कहा जाता है। आपके स्टार्टअप का रिटेंशन रेट जितना अच्छा होगा आपका स्टार्टअप उतनी ही तेजी से आगे बढ़ेगा।

Revenue Model

किसी भी स्टार्टअप का सबसे जरूरी भाग उसका Revenue Model होता है यानी आपका स्टार्टअप किस प्रकार पैसे कमाए गा उस मॉडल को रिवेन्यू मॉडल कहा जाता है।

अगर आप अपने स्टार्टअप के लिए पैसे उठाना चाहते हैं तो आपका Revenue Model कामयाब होना चाहिए।

Seed Funding

Angle Investors से फंडिंग लेने के बाद आप जो अपनी पहली फंडिंग लेंगे उसे Seed Funding कहा जाता है। एक प्रकार से हम यह भी कह सकते हैं कि स्टार्टअप को Angle फंडिंग मिलने के बाद सीड फंडिंग मिलती है।

Series of Funding

Angle Funding और Seed Funding के बाद आप अपने स्टार्टअप के जरिए जितनी भी फंडिंग उठाएंगे उसे Series के रूप में मापा जाएगा।

जैसे Series A फंडिंग और जब आपको Series A में फंडिंग मिल जाएगी फिर सीरीज B, C, D, E, F इस तरह से आपके फंडिंग को मापा जाएगा।

Term Sheet

अगर कोई इन्वेस्टर आपके स्टार्टअप में पैसा लगाने के लिए तैयार है तो वह आपको एक Term Sheet देगा जिसमें सभी तरह की टर्म्स एंड कंडीशन लिखी होंगी आपके स्टार्टअप में इन्वेस्ट करने के लिए।

Valuation – Startup Terms Explained in Hindi

आपके स्टार्टअप की वैल्यू कितनी है उसे Valuation कहा जाता है। स्टार्टअप की वैल्यूएशन उनके Recent फंडिंग राउंड और उनके Stocks के आधार पर की जाती है।

Venture Capital

Venture Capital (VC) उन्हें कहा जाता है जो नए स्टार्टअप में अपना पैसा इन्वेस्ट करते हैं ताकि Startups को आगे बढ़ने में मदद किया जा सके।

दुनिया में कुछ प्रसिद्ध Ventune Capitals (VC) का नाम है – Sequoia Capital, Accel Partners, IDG Ventures आदि।

तो दोस्तों यह है कुछ जरूरी स्टार्टअप Terms जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए। अगर आपको इससे जुड़ा कोई भी प्रश्न पूछना है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स के जरिए हम से प्रश्न पूछ सकते हैं।

यह लेख भी पढ़े:

इस लेख को आप अपने आने वाले Startup Founder दोस्त के साथ जरूर शेयर करें और यह लेख आपको कैसा लगा आप नीचे हमें कमेंट करके बता सकते हैं।

हम आशा करते हैं कि इस लेख से आप Startup Terms Explained in Hindi समझ गए होंगे और इससे आपने बहुत कुछ सीखा होगा।

FAQ – Startup Terms Explained in Hindi

Q: भारत में कितने Unicorn Startups हैं?

Answer: भारत में साल 2022 के अनुसार 100 से ज्यादा की गिनती में Unicorn Startups हैं।

Q: इंडिया में Startup की राजधानी कौन सी हैं ?

Answer: बैंगलोर को इंडिया में Startup की राजधानी कहा जाता हैं।

Sharing Is Caring:

Hey There, Welcome to My Blog. Myself Gagan Shrivastav Founder of KarobaarGuru.com Am a Digital Entrepreneur & Passionate About Creating Content.

Leave a Comment